X Close
X
7499472288

अलीगढ़ की टॉप खबरे


Lucknow:

मडराक को नगर पंचायत बनाने की अधिसूचना जारी
अलीगढ़,उ.प्र.। जिले को जल्द ही दसवीं नगर पंचायत की सौगात मिलने वाली है।राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के निर्देश पर नगर विकास के प्रमुख सचिव नेमडराक को नगर पंचायत बनाने की अधिसूचना जारी की है।मौजूदा समय में जिलेमें 12 नगरीय निकाय हैं।इसमें एक नगर निगम,दो नगर पालिका व नौ नगर पंचायतहै।अब पिछले दिनों जिला प्रशासन ने मडराक को नगर पंचायत के रूप मेंविकसित करने का प्रस्ताव शासन को भेजा था।

अब राज्यपाल ने उत्तर प्रदेशनगर पालिका अधिनियम 1916 की धारा 03 के साथ पठित संविधान के अनुच्छेद243-थ के अधीन शक्तियों का प्रयोग कर अपनी सहमति इस पर जता दी है।इन्हींके निर्देश पर नगर विकास के प्रमुख सचिव ने इसकी अधिसूचना जारी कर दीहै।डीएम चंद्र भूषण सिंह ने बताया कि अब  इस पर दावे एवं आपत्ती मांगे गएहैं।15 दिन के अंदर कोई भी व्यक्ति अपनी आपत्तियां एवं सुझाव प्रमुख सचिवनगर विकास अनुभाग-01,बापू भवन लखनऊ को भेज सकते हैं।

 

ब्रिलिएंट पब्लिक स्कूल में होगा विजेताओं का सम्मान
अलीगढ़,उ.प्र.। हिंदी दिवस की पूर्व संध्या पर ब्रिलिएंट पब्लिक स्कूल में अंतर्राष्ट्रीय कवि और टी वी शो लपेटे में नेताजी से प्रसिद्ध हुए वीर रस के कवि गौरव चैहान और अंतर्राष्ट्रीय शायरा रेहाना शाहीन विजेता बच्चोंको सम्मानित करेगी।प्रधानाचार्य श्याम कुंतेल ने बताया कि विद्यालय केहिंदी विभाग द्वारा हिंदी माह के अंतर्गत बहुत सी प्रतियोगिताएं करवाई गई हैं, जिनके लगभग पचास विजेताओं को ये दोनों सम्मानित करेंगे।इसी क्रम में कक्षा 10 एवं 12 की सीबीएसई परीक्षाओं में हिंदी विषय में सर्वोच्च स्थान प्राप्त करने वाली छात्राओं को हिंदी मेधा सम्मान से सम्मानित किया जाएगा।कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रसिद्ध कहानीकार डा प्रेमकुमार करेंगे।यह आयोजन विद्यालय के सभागार में 13 सितंबर को होगा।प्रवेश केवल पास द्वारा
ही दिया जाएगा।

 

राष्ट्रपति 5 प्रोफेसरों को करेंगे प्रदान अवार्ड
अलीगढ़,उ.प्र.। राष्ट्रपति सचिवालय ने सोमवार को विजिटर्स अवॉर्ड 2019 की घोषणा कर दी।राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद मानविकी,कला एवं सामाजिक विज्ञान,भौतिक विज्ञान,जीव विज्ञान और प्रौद्योगिकी विकास के अनुसंधान के लिए 5 प्रोफेसरों को विजिटर्स अवार्ड प्रदान करेंगे।राष्ट्रपति भवन के अनुसार,जीव विज्ञान के क्षेत्र में अनुसंधान के लिए यह पुरस्कार अलीगढ़
मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के अन्तरविषयी जैव प्रौद्योगिकी इकाई के प्रोफेसर असदुल्ला खान को भारत में एंटी माइक्रोबियल रेजिस्टेंस (एएमआर)और एएमआर के फैलने और नियंत्रण की कार्यप्रणाली के लिए प्रदान किया जाएगा।मानविकी,कला और सामाजिक विज्ञान में अनुसंधान के लिए पुदुचेरी विश्वविद्यालय के एप्लाइड साइकोलॉजी विभाग के प्रोफेसर शिवनाथ देव को विजिटर्स अवार्ड प्रदान किया जाएगा

 

 37 हजार शस्त्र लाइसेंस धारकों की जांच के लिए टीमें गठित
अलीगढ़,उ.प्र.। गोरखपुर और कानपुर में जम्मू, असम एवं नागालैंड से बने शस्त्र लाइसेंसों में फर्जीवाड़ा सामने आने के बाद जिला प्रशासन ने इन प्रदेशों समेत अन्य प्रदेशों से बने शस्त्र लाइसेंसों की जांच के आदेश जारी किए हैं। अलीगढ़ के डीएम चंद्रभूषण सिंह ने जिले के सभी 37 हजार शस्त्र लाइसेंस धारकों की जांच के लिए पुलिस व राजस्व विभाग की टीमें गठित कर दी हैं। यह टीमें सभी शस्त्र लाइसेंसों का सत्यापन करेंगी। इस दौरान विशेष नजर दूसरे प्रदेशों से बने शस्त्र लाइसेंसों पर रहेगी। डीएम चंद्रभूषण सिंह ने स्वीकार किया कि फर्जीवाड़े को देखते हुए जिले के सभी शस्त्र लाइसेंसों की जांच के आदेश जारी किए हैं।दूसरे प्रदेशों से बने शस्त्र लाइसेंसों की जांच उन प्रदेशों केमुख्यालयों से कराई जाएगी। जरूरत पड़ने पर अफसरों को वहां भेजा जाएगा।बताते चलें कि करीब 43 लाख आबादी वाले अलीगढ़ जिले में 37,449 शस्त्रलाइसेंस हैं। इनमें से 15 से 20 फीसदी लाइसेंस दूसरे प्रदेशों से बने हुए हैं।

 

फेसबुक पर डीएम के प्रति टिप्पणी में फंसे न्यूरो सर्जन
अलीगढ़,उ.प्र.। महानगर के रामघाट रोड इलाके के प्रमुख न्यूरो सर्जन डॉ.नागेश वाष्र्णेय जिलाधिकारी के प्रति फेसबुक पर टिप्पणी करने में फंसगए हैं। उनके खिलाफ डीएम वार रूम की ओर से सिविल लाइंस थाने में मुकदमादर्ज कराया गया है। हालांकि डॉक्टर का कहना है कि उन्होंने अपनी टिप्पणीपर खुद जिलाधिकारी से मिलकर खेद व्यक्त किया था।नकवी पार्क में फिजियोथेरेपी डे पर शिविर का आयोजन किया गया था, जिसमेंडीएम डॉ.चंद्रभूषण सिंह बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए थे। इस आयोजन कीपोस्ट आयोजकों की ओर से फेसबुक पर अपलोड की गई।इस पोस्ट पर डॉ.नागेश वाष्र्णेय ने टिप्पणी करते हुए जिलाधिकारी के प्रतिलिख दिया कि डीएम को मुख्य अतिथि बनाने की क्या जरूरत थी। इसके अलावा कुछअन्य बातें भी टिप्पणी में लिखी गई हैं। यह टिप्पणी आयोजकों और वार रूमके जरिए डीएम तक पहुंची। इस पर डीएम की ओर से नाराजगी जताई गई। यह बातसंज्ञान में आने पर डॉ.नागेश ने खुद डीएम के पास जाकर उनसे माफी भीमांगी।इसके बाद वार रूम के कर्मचारी सत्यवीर सिंह की तहरीर पर सिविल लाइंस थानेमें मुकदमा दर्ज कराया गया है। इंस्पेक्टर सिविल लाइंस अमित कुमारईटीएक्ट की धारा 84 बी और 504 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। वहींडॉ.नागेश का कहना है कि उनकी मंशा कुछ गलत नहीं थी। फिर भी उन्होंने अपनी टिप्पणी पर माफी मांगी थी।