X Close
X
7499472288

टिकट चेकिंग स्टाफ की सतर्कता से पकडा गया फर्जी टीटीई गैंग।


Lucknow:

‌स्वतंत्र प्रभात ।

‌प्रयागराज ब्यूरो।

‌रेलवे स्टेशन कानपुर सेंट्रल पर  टिकट चैकिंग स्टाफ सुनील पासवान तथा रेलवे सुरक्षा बल पोस्ट कानपुर सेंट्रल की क्यू.आर.टी. में तैनात स्टाफ द्वारा ओवर ब्रिज दिल्ली एण्ड की तरफ सिटी साइड बने एस्केलेटर के पास से चैकिंग के दौरान दिनेश पुत्र रामखेलावन नामक व्यक्ति को पकडा।  यह व्यक्ति सफेद शर्ट पहने हुये था जिसके गले में पट्टा पड़ा हुआ था जिस पर कार्ड नही लगा था  और अपने आपको टी.टी.ई  बता रहा था। शक होने पर उससे पूछताछ की गई तो फर्जी टी.टी.ई  होना पाया गया l इसके बाद उसने अपने मोबाइल पर आई.डी. दिखाई, जिस पर सीनियर सैक्शन इंजीनियर की मुहर लगी हुई थी जिसके कारण और शक होने पर टी.टी.ई. आफिस कानपुर लाकर वाणिज्य स्टाफ ने अपने रिकॉर्ड भी चैक किये तो कोई भी इस नाम का टी.टी.ई. ट्रेनिंग नही कर रहा था और न ही कोई रिकार्ड पाया गया l
‌इसके उपरांत स0उ0नि0 श्रीराम मय 02 रेलवे सुरक्षा बल स्टाफ द्वारा टिकट चैकिंग स्टाफ सुनील पासवान के साथ जी.आर.पी. थाना कानपुर सेंट्रल ले जाया गया।

वहां पर उप निरीक्षक कीर्तिप्रकाश कनौजिया जी.आर.पी. कानपुर सेंट्रल ने  चैकिंग स्टाफ सुनील पासवान द्वारा पकडे गये व्यक्ति के विरूद्व उचित कार्यवाही करने हेतु लिखित तहरीर दी गई।  इस पर जी.आर.पी. उप निरीक्षक द्वारा पूछताछ करने पर पकडे गये दिनेश नामक व्यक्ति ने बताया कि कुछ दिनों से और भी कुछ लोग कानपुर स्टेशन पर टी.टी. की ट्रेनिंग कर रहे हैं तो उसके बताये अनुसार स्टेशन व स्टेशन परिसर से उन व्यक्तियों को जी.आर.पी. व रेलवे सुरक्षा बल स्टाफ द्वारा तलाश कर पकडा गया जिनको जी.आर.पी. थाना कानपुर सेंट्रल लाया गया तथा कार्यवाही में रेलवे सुरक्षा बल व जी.आर.पी. द्वारा संयुक्त रूप से अन्य 15 व्यक्तियों {कुल 16} को जी.आर.पी. थाना एकत्रित कर पूछताछ के लिये रोका गया, इनमे से कुछ लोग ट्रेनिंग कर रहे थे तथा कुछ व्यक्ति जो इनकी डयूटी लगाते थे व हाजिरी लेते थे।

उक्त व्यक्तियों की तलाशी में 15 से 20 आई.डी. मिली तथा कुछ टी.टी.ई. पद के नियुक्ति पत्र भी मिले, सभी कागजात व आई.डी. देखने से फर्जी लग रहे हैं। उक्त व्यक्तियों से संयुक्त टीम द्वारा  पूछताछ की गयी  तो ज्ञात हुआ की रुद्र प्रताप ठाकुर (मूल नाम दिनेश सिंह) पुत्र राजेश्वर सिंह  निवासी 53/876 रतनपुर कॉलोनी पनकी कानपुर नगर नामक व्यक्ति लोगो को कभी कानपुर सेंट्रल गेट नंबर 1 या पनकी स्टेशन के बाहर बुलाकर रेलवे में पोर्टर टी टी ई आदि की नियुक्ति के लिए पैसा व आई डी लेकर उक्त कार्य का संचालन कर रहा था। उनके आवास से सर्च के दौरान संलिप्त  वाहन ERTIGA सं UP78 GL 1927 बरामद की गई।  उपरोक्त रुद्र प्रताप ठाकुर (मूल नाम दिनेश सिंह) पुत्र राजेश्वर सिंह  नही मिला  है। मामले की जाँच चल रही है। कानपुर टी.टी.ई   सुनील पासवान को उनकी सतर्कता के चलते उप मुख्य यातायात प्रबंधक कानपुर श्री हिमांशु उपाध्याय द्वारा 1000 रुपये के नगद पुरस्कार एवम प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया।

The post टिकट चेकिंग स्टाफ की सतर्कता से पकडा गया फर्जी टीटीई गैंग। appeared first on दैनिक स्वतंत्र प्रभात हिंदी अख़बार.