X Close
X
7499472288

सरकार की नियत साफ है भ्रष्टाचारियों को छोड़ेंगे नहीं


Lucknow:

‌गुरु चले गए चेला जाने वाले हैं। 

प्रयागराज -

‌केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि मोदी सरकार भ्रष्टाचारी को छोड़ेगी नहीं चाहे जितनी पहुंच वाले क्यों न हो।

केंद्र सरकार के दूसरे कार्यकाल के सौ दिन पूरा होने पर सोमवार को उपलब्धियां गिनाने प्रयागराज पहुंचे केंद्रीय मंत्री ने सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत की।‌सरकार की कार्रवाई का हवाला देते हुए केंद्रीय मंत्री ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी चिदंबरम गुरु और राबर्ट्स वाड्रा को चेला बताया।

बोले कि गुरु जा चुके हैं। अब चेले पर भी जल्द कार्रवाई होगी। उन्होंने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि जो लोग देशमें  मंदी का शोर कर रहे हैं वह अपने ही संगठन की  मंदी दूर नहीं कर पा रहे हैं।दुनिया में मंदी का दौर चल रहा है लेकिन हमारे देश पर इसका कोई खास असर नहीं है। इससे उबरने की पूरी तैयारी है।

‌उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 में जब पहली बार सरकार बनी और नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने तो विपक्षी दलों ने इस्लामिक देशों से संबंध खराब होने का हवाला देते थे लेकिन आज उन्हीं इस्लामिक देशों (यूएई, सऊदी अरब, अफगानिस्तान, बहरीन आदि) से इतने मजबूत संबंध हैं कि उन्होंने प्रधानमंत्री को सबसे बड़ा सम्मान दिया है।

इसी का नतीजा है कि धारा 370 हटाने के बाद पाकिस्तान का न सिर्फ इस्लामिक  देश ने साथ नहीं दिया।बल्कि अन्य देश प्रधानमंत्री के साथ खड़े थे। सभी देशों से मजबूत संबंध होने का इससे बड़ा और क्या प्रमाण हो सकता है।बीते 27-28 अगस्त को टीम ने कश्मीर दौरा किया था। शुरू की जाने वाली अल्पसंख्यक योजनाओं पर चर्चा की। दोनों केंद्र शासित प्रदेशों में कमेटी एवं वक्फ बोर्ड की स्थापना की संभावनाओं पर भी चर्चा हुई।

 नकवी ने कहा कि सौ दिन में अल्पसंख्यकों के लिए देशभर में सौ कॉमन सर्विस सेंटर खोले जाने की मंजूरी हुई है। इससे जरूरतमंदों को सिंगल विंडों पर सरकार की सभी कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी मिलेगी। बताया कि दो लाख भारतीय मुसलमान बिना किसी सब्सिडी के हज यात्रा पर गए।

आठ लाख छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति दी गई।  पांच सालों में पांच करोड़ छात्र-छात्राओं को स्कॉलरशिप देने की योजना है। बताया कि देशभर में छह लाख से ज्यादा वक्फ संपत्तियां हैं। इनका सौ प्रतिशत डिजिटिलाइजेशन किया गया है।केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने सरकार के सौ दिन के काम का उल्लेख करते हुए बताया कि काफी  समय के बाद संसद काम करती हुई दिखी है। देश के सरोकार से जुड़े सवालों पर फैसला लिया है। चाहे तीन तलाक का मुद्दा हो या फिर कश्मीर में धारा 370 व 35ए खत्म करने का।

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में सोलह हजार अस्पतालों को शामिल किया गया है। 40 लाख से अधिक लोगों को आयुष्मान भारत का लाभ दिया गया। नौ करोड़ से ज्यादा लोगों को ई-कार्ड जारी किए गए। उज्ज्वला योजना के तहत सौ दिनों में आठ करोड़ का लक्ष्य प्राप्त किया गया है।

80 लाख से अधिक जरूरतमंदों को नि:शुल्क गैस कनेक्शन मुहैया कराया गया। एनआईए को सशक्त बनाने के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी अधिनियम,   2019 लाया गया। रक्षा बलों के बीच समन्वय को मजबूत करने के लिए चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ की नियुक्तिकी।